लॉकडाउन : चार लाख का पान मसाला और मीट की तीन दुकानें कर दी गईं सीज

शासन के प्रतिबंध के बाद भी गली मुहल्लों में पान मसाला, तंबाकू, खैनी और सुपारी धड़ल्ले से बिक रही है। दुकानदार और कारोबारी कालाबाजारी करके मोटा मुनाफा भी कमा रहे हैं। खाद्य विभाग ने अब इस पर भी कार्रवाई शुरू कर दी है। शनिवार को जिले में कई जगह छापेमारी की गई। इसके बाद अन्य कारोबारियों ने इन चीजों को छिपा कर रख दिया है। जगह जगह बिक्री की शिकायत पर खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन की टीम ने छापेमार कार्रवाई की। 
सबसे बड़ी कार्रवाई शिकोहाबाद के पत्थर मंडी स्थित विकास ट्रेडर्स पर हुई। यहां छापेमारी में 4.10 लाख रुपये कीमत का रजनीगंधा पान मसाला और तंबाकू रखी मिली। उसे मौके पर ही सीज कर दिया। कारोबारी का लाइसेंस निलंबित कर दिया गया है। दूसरी कार्रवाई थाना दक्षिण के जगजीवन रामनगर में हुई। यहां अवैध रूप से चल रही मीट की तीन दुकानों को सीज कर दिया गया। संचालक कमरुद्दीन, सुपर मटन चिकन शॉप और संजय को नोटिस दिया गया है। इनके खिलाफ मुकदमा दायर करने की कार्रवाई भी की जा रही है। 

मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी वीएस कुशवाहा ने सुहाग नगर स्थित राधा ट्रेडर्स पर छापेमारी की। यहां करीब चार हजार रुपये मूल्य का पान मसाला और स्वीटी सुपारी रखी मिली। उसे सीज कर दिया गया। विक्रेता रमेश चंद्र द्वारा बिक्री से इनकार करने पर नोटिस दिया गया है। इसके बाद राजा का ताल स्थित विक्रेता प्रशांत जैन किराना स्टोर पर छापेमारी की। यहां प्रशासन द्वारा तय की गई रेट लिस्ट न मिलने पर दुकानदार को चेतावनी दी गई। खाद्य सुरक्षा अधिकारी रविभान सिंह ने उसायनी में एक शिकायत पर कार्रवाई करते हुए किराना स्टोर को बन्द कराया। वहीं शिव मेडिकल स्टोर को सेनेटाइजर व मास्क न होने पर नोटिस दिया है।
Loading...