लॉकडाउन में बच्चा गोद लेने पर सगे भाइयों ने दंपती कंसाथ किया ऐसा काम...

एक दंपती ने अपने ही रिश्तेदार के दुधमुंहे बच्चे को गोद लिया तो सगे भाइयों ने बेहरमी से पीटकर उन्हें जख्मी कर दिया। मामला बिरनी थाना क्षेत्र के पडरिया गांव का है। जख्मी दंपती प्रेमचंद साव व उनकी पत्नी टुकनी देवी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज कराने के बाद थाना में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। कहा है कि उन्हें कोई बच्चा नहीं है। 
एक रिश्तेदार से उनके बच्चे को अपना पुत्र बनाने के लिए गोद लिया था। गोद लेते ही उनके सगे भाई बदरी साव, त्रिलोकी साव, सुरेंद्र साव, उनकी पत्नी पुष्पा देवी व पुनियां देवी ने बेरहमी से पिटाई कर उन्हें जख्मी कर दिया। कहा कि उसके हिस्से की जमीन को तीनों भाई अपने नाम से लिखने का दबाव देते हैं। कहते हैं कि तुम्हें बच्चा नहीं है तो जमीन रखकर क्या करोगे। 

जिस बच्चे को अपना पुत्र बनाने के लिए गोद लिया है उसे वापस कर दो। इस बच्चे को घर में रहने नहीं देंगे। आरोपितों ने कहा कि आरोप गलत है। दोनों पति-पत्नी सभी से झगड़ा करते रहते हैं। हमलोगों का उससे कोई लेना-देना नहीं है। थाना प्रभारी सुरेश मंडल ने बताया कि आवेदन मिला है। दंपती के साथ गलत हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जांच पूरी होने के बाद कार्रवाई की जाएगी।