अगर आप सैलून जाने की सोच रहे हैं तो पहले पढ़ लें ये खबर, बाल कटवाना पड़ सकता है आपको भारी

लॉकडाउन खुलने के बाद अगर आप भी सबसे पहले सैलून जाने की सोच रहे हैं तो आपको बता दें कि ऐसा करने पर आप कोरोना की चपेट में आ सकते हैं. केंद्र सरकार ने फिलहाल सैलून खोलने पर पाबंदी लगा रखी है. लेकिन मध्य प्रदेश में नियमों को ताक पर रखकर सैलून खोले गए. आपको जानकर हैरानी होगी कि प्रदेश में सैलून के माध्यम से न सिर्फ आम लोगों में कोरोना का संक्रमण फैला है बल्कि पुलिसवाले भी इसकी चपेट में आ गए हैं. 
दरअसल, जबलपुर में सैलून स्टाफ की वजह से पांच पुलिसवाले कोरोना की चपेट में आ गए हैं. खास बात है कि इन पांचों पुलिसवालों ने पुलिस विभाग के ही बार्बर से शेविंग करवाई थी. मामला सामने आने के बाद जबलपुर में पुलिस विभाग के बड़े अफसरों की सांसें फूली हुई हैं. वजह है पिछले दिनों में कई पुलिसवालों ने इसी बार्बर से शेविंग करवाई थी. जबलपुर सीएमएचओ डॉ मनीष मिश्रा ने कहा कि अब स्वास्थ्य विभाग उन सभी लोगों के कॉन्टैक्ट लिस्ट तैयार कर रहा है जो उस सैलून में गए थे. सभी लोगों का पता लगाकर उन्हें क्वारंटीन किया जाएगा. 

आपको बता दें कि कोरोना के 5 नए केस सामने आने के बाद जबलपुर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 78 पहुंच गया है. इससे पहले इसी तरह का मामला 24 अप्रैल को मध्यप्रदेश के ही खरगोन से आया था. यहां भी सैलून से 6 लोगों तक संक्रमण फैलने की पुष्टि हुई थी. बताया जा रहा है कि सभी लोग एक ही सैलून में शेविंग बनवाने गए थे. वहां एक संक्रमित व्यक्ति भी आया था. सैलून वाले ने उस शख्स की कटिंग के लिए जिस कपड़े का इस्तेमाल किया उसी का उपयोग दूसरों के हेयर कट और शेविंग में भी कर दिया. 

जाहिर है कोरोना काल में सैलून संक्रमण की बड़ी वजह बन सकते हैं. कुछ दिनों पहले केरल सरकार ने भी सैलून और रेस्टोरेंट्स खोलने की इजाजत दी तो केंद्र सरकार ने आपत्ति जताई थी. जिसके बाद केरल में सैलून पर पाबंदी फिर से लगा दी गई और रेस्टोरेंट्स से भी खाना सिर्फ घर ले जाने की इजाजत दी गई. केंद्र सरकार ने साफ कहा है कि फिलहाल स्पा और सैलून पर लगी रोक जारी रहेगी. 

संयुक्त सचिव, गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने कहा कि जाहिर है लॉकडाउन को लेकर केंद्र सरकार का निर्देश एकदम साफ है. सैलून पर पांबदी जारी है. बावजूद इसके मध्य प्रदेश के जबलपुर में पुलिसवालों ने ही नियम कायदे को दरकिनार कर हजामत बनवाई. ऐसा करके उन्होंने खुद अपने ही लिए नहीं बल्कि शहर के दूसरे लोगों के सेहत के साथ भी खिलवाड़ किया है.