"शरीफ इंसान की कोई जिंदगी नहीं है" लॉकडाउन में इंस्पेक्टर ने आत्महत्या करने से पहले ऐसा कहा...

हरियाणा की धर्मनगरी कहे जाने वाले जिले कुरुक्षेत्र में खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में कार्यरत इंस्पेक्टर आशीष दांगी ने जहरीला पदार्थ निगल कर आत्महत्या कर ली है। मृतक आशीष दांगी का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दांगी ने खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अधिकारियों व समकक्ष लोगों पर रिश्वतखोरी का सनसनीखेज आरोप लगाया है।
यह वीडियो देख सुन आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। वीडियो में दांगी ने कहा, '' मुझे माफ कर देना बेटा मैं आपके सपनों को इसलिए पूरा नहीं कर सका क्योंकि शरीफ इंसान की कोई जिंदगी नहीं है( मेरी मौत का जिम्मेवार अंकुर जांगड़ा, प्रवीण कुमार व डीएफएससी नरेंद्र शेरावत है और मैं भ्रष्ट सिस्टम से हार गया हूं क्योंकि यह भ्रष्ट अधिकारी मुझसे 50 हजार की घूस ले चुके हैं और इनकी बाकी डिमांड मैं पूरी नहीं कर सकता।''
यह वीडियो निरीक्षक आशीष दांगी की उस वक्त की बताई जा रही है जब वह अस्पताल में जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ते हुए अंतिम सांस ले रहा था। इस मामले में शहर थानेसर प्रभारी जसपाल सिंह ने उन्होंने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि आशीष की पत्नी की शिकायत पर खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 
उन्होंने कहा कि जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे उनके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि अभी पूछताछ के लिए किसी भी व्यक्ति को नहीं बुलाया गया है क्योंकि विसरा जांच के लिए भेजा गया है। अभी वीडियो की फॉरेन्सिक रिपोर्ट भी मंगवाई जाएगी ताकि उस वीडियो की सत्यता जांची जा सके।