इस विदेशी लड़की ने दिल्ली में लॉकडाउन की उड़ाई धज्जियां, पुलिस से भी किया बहस

पूरी दुनिया इस समय कोरोनावायरस की चपेट में है. इस महामारी से लड़ने के लिए तरह-तरह के उपाय किए गए हैं. भारत में महामारी के प्रकोप से बचने के लिए पूरी तरह से लॉकडाउन किया गया है. भारत की राजधानी दिल्ली में कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे में लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जा रहा है, लेकिन उरुग्वे की एक महिला डिप्लैमेट बिना किसी सुरक्षा उपाय के दिल्ली की सड़कों पर साइकिल चलाते हुए दिखी. जब पुलिस ने उसे रोकने की कोशिश की तो वह पुलिस वालों से लड़ाई करने पर उतारू हो गई.
बता दें, लॉकडाउन के वक्त अगर कोई बाहर निकलता भी है तो उसे अनिवार्य रूप से मास्क लगाने और हाथ में ग्लब्स पहनने के लिए निर्देश दिया गया है. शनिवार को, उरुग्वे के दूतावास के एक राजनयिक को वसंत विहार में पश्चिमी मार्ग पर साइकिल चलाते हुए पाया गया, जहां कई दूतावास स्थित हैं और राष्ट्रीय राजधानी में तैनात कई राजनयिकों का आवास भी है.

उरुग्वे दूतावास में प्रशासन की प्रमुख वेलेंटीना ओबिस्पो को दिल्ली पुलिस ने रोका, क्योंकि स्थिति की गंभीरता की अनदेखी करने के लिए कुछ राजनयिकों/विदेशियों के रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन (आरडब्ल्यूए) से शिकायत मिली थी. रोके जाने पर, राजनयिक भारत सरकार द्वारा जारी किए गए ऐसे दिशानिर्देशों के बारे में जानकारी नहीं होने के बारे में पुलिस के साथ बहस करते हुए देखी गई.
पुलिस ने उनसे कहा कि विदेश मंत्रालय ने पहले ही जनादेश जारी करके कहा है कि हर किसी को उपर्युक्त बातों का पालन करना होगा, जिसका आप पालन नहीं कर रही हैं, तो उरुग्वे की राजनयिक ने कहा कि हमें इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है. आप चाहें तो मैं आपको दूतावास का मेल दिखा सकती हूं.

पुलिस ने कहा कि आपको सरकार के आदेश का पालन करना होगा. आप भारत के माननीय पीएम द्वारा किए गए लॉकडाउन निर्देश का पालन नहीं कर रही हैं. महिला ने कहा कि आपके पीएम बहुत आदरणीय हैं, लेकिन हमें कुछ भी जानकारी नहीं मिली है. यह पूछे जाने पर कि राजनयिक किस दूतावास से हैं, तो ओबिस्पो अपनी साइकिल पर सवार होकर कहा कि आप मुझसे कुछ नहीं कह सकते. आप मुझे मास्क पहनने के लिए नहीं कह सकते.

ड्यूटी पर मौजूद पुलिसकर्मियों के मुताबिक, राजनयिक ने अधिकारियों को अपना पहचान पत्र दिखाने से इनकार कर दिया. दिल्ली पुलिस उरुग्वे दूतावास को एक राजनयिक शिकायत भेज रही है जिसमें लॉकडाउन के आदेशों की अवहेलना की जा रही है और मास्क पहनने की अनिवार्यता है. दिल्ली पुलिस राजनयिक के व्यवहार और उसके दावे के बारे में विदेश मंत्रालय को भी लिखेगी कि दूतावास को मंत्रालय से कोई दिशानिर्देश नहीं मिला है. MEA के सूत्रों ने बताया कि बताया कि मंत्रालय लॉकडाउन के बारे में विदेशी मिशनों को नियमित सलाह भेज रहा है और जोर देकर कहा है कि उन्हें घर के अंदर रहने की जरूरत है.