लॉकडाउन : पुजारी ने लांघी 'लक्ष्मण रेखा' तो मंदिर में घुस दारोगा ने उसको पीटा, अब सीएम ने लिया एक्शन

रीवा जिले में एक पुजारी का लॉक डाउन का उल्लंघन करना महंगा पड़ गया। जानकारी के अनुसार, बुधवार की रात पुजारी लोगों को मंदिर में इकट्ठा कर पूजा-पाठ करवा रहा था। इस बात की जानकारी जैसे ही पुलिस को मिली, पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पूजा के लिए पहुंचे लोगों को तो वहां भगा दिया। मंदिर परिसर में घुस पुलिस अधिकारी ने पुजारी की पिटाई कर दी।
दरअसल, घटना रीवा जिले के ढेकहा स्थित देवी मंदिर परिसर की है। पुलिस की बर्बरतापूर्ण कार्रवाई को लेकर वहां के लोगों ने डीजीपी विवेक जौहरी के पास भी सिविल लाइन थाना प्रभारी की शिकायत की थी। साथ ही रीवा के विधायक राजेंद्र शुक्ला ने भी इसे लेकर राज्य के आला पुलिस अधिकारियों से बात की थी। सोशल मीडिया पर भी लोग घटना की तस्वीर शेयर कर कार्रवाई की मांग कर रहे थे।

सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर के आधार पर मंदिर परिसर में पिटाई करने वाले पुलिस अधिकारी पर कार्रवाई की है। जनसंपर्क एमपी ने ट्वीट कर लिखा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोशल मीडिया पर रीवा में पुलिस द्वारा अनुचित ढंग से की गई कार्रवाई की जो तस्वीरें वायरल हो रही हैं, उसे गंभीरता से लिया है। मामले में संज्ञान लेते हुए उक्त घटना में थाना प्रभारी निरीक्षक राजकुमार मिश्रा को तत्काल लाइन अटैच कर दिया गया है। मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj ने सोशल मीडिया में रीवा में पुलिस द्वारा अनुचित ढंग से की गई कार्यवाई की जो तस्वीरें वायरल हो रही हैं उसे गंभीरता से लिया है।
दरअसल, लॉक डाउन के बावजूद सिविल लाइन थाने के ढेकहा स्थित देवी मंदिर में बुधवार रात करीब 50 से ज्यादा लोग जमा हो गए और पूजा-पाठ में जूट गए। सूचना पर सिविल लाइन थाने से भारी पुलिस बल पहुंच गया। पुलिस ने पूजा कर रहे लोगों को भगा दिया। पुलिस ने आसपास के इलाकों में सर्च अभियान भी चलाया लेकिन कोई नहीं मिला। उसके बाद मंदिर परिसर में घुस वहां मौजूद पुजारी की पिटाई करने लगी। मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने घटना की तस्वीर ले ली और उसको सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।
Loading...