कोरोना के समय नर्स के साथ हुआ मारपीट, जानिए फिर पुलिस ने क्या किया

कोरोना वायरस (Coronavirus, Covid-19) के संक्रमण को देश में फैलने से रोकने के लिए सरकार ने 21 दिन के लॉकडाउन लगाया हुआ है। जिसका आज 15वां दिन है। लोगों को घर से बाहर निकलने से रोकने के लिए पुलिस काफी सख्ती कर रही है। बिहार में संक्रमितों की संख्या 38 पर पहुंच गई है। इनमें 15 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दे गई है और एक संक्रमित की मौत हो चुकी है।
वहीं बेगूसराय में सदर अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड की इंचार्ज महिला के साथ मंगलवार की रात उसके पड़ोसी ने कोरोना फैलाने का आरोप लगाकर मारपीट की। पड़ोसी ने नर्स को जान से मारने की धमकी भी दी। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। इस मामले में 11 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

वहीं, बिहार सरकार ने कोरोना लॉकडाउन में अब मांस, मछली और अंडे की दुकानों को खुला रखने का निर्देश दिया है।कृषि सचिव डॉक्टर एन सरवन कुमार ने बताया कि लॉकडाउन के कारण किसानों को दिक्कत हो रही है। इसलिए कृषि और कृषि से संबंधित क्षेत्र को लॉकडाउन के दायरे से बाहर रखा है। एन सरवन कुमार ने यह जाकारी दी कि मटन, अंडा, मछली की दुकानें खुली रहेंगी। कृषि विभाग के सचिव डॉक्टर एन सरवन कुमार ने बताया कि किसानों की फसल कटाई भी लॉकडाउन से बाहर रखा है। 

किराना स्टोर वालों को पूर्व की तरह शाम छह बजे तक ही दुकान को खुला रखने का निर्देश है। बिहार में सुधा के चार सौ से अधिक मिल्क पार्लर अब रात आठ बजे तक खुले रहेगें। कृषि सचिव ने कहा कि सभी वैज्ञानिक संस्था का कहना है कि कोरोना संक्रमण से मीट मछली और अंडे का मतलब नहीं है। इसलिए बिहार में सभी मछली, मीट और चिकेन दुकान को लॉकडाउन से बाहर रखा गया है।

पुलिस ने दरभंगा में बेवजह घूमने वालों को सड़क पर घुटनों के बल चलवाया, तो खगड़िया में मेंढ़क की तरह उछलवाया। कुछ युवकों को मुर्गा बनाया गया। इसके अलावा खगड़िया में भी पुलिस ने उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जो बेवजह घूम रहे थे। कई लोगों को पकड़ा और सड़क पर उठक-बैठक कराई। इसके बाद सभी को सड़क पर मेंढ़क की तरह उछलवाया। कोरोना वायरस से बचाव को लेकर बेगूसराय और जहानाबाद के डीएम ने नया कदम उठाया है। तंबाकू और गुटका थूकने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। बेगूसराय के डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने कहा कि खैनी-गुटखा खाकर थूकने से भी कोरोनावायरस फैलने का खतरा ज्यादा है।