कोरोना : पीएम बोरिस जॉनसन का हो रहा है इलाज, ब्रिटेन के परमाणु कोड किसके पास हैं ये पता नहीं

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं। अभी तक उनकी गैर-हाजिरी में ब्रिटेन ने कोई प्लान बी जारी नहीं किया है। इस बीच यह सवाल भी उठ रहा है कि ब्रिटेन का न्यूक्लियर बटन किसके पास है, जबकि बोरिस बीमार हैं। हालांकि, सरकार ने मंगलवार को यह जानकारी देने से इनकार कर दिया कि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को COVID-19 जटिलताओं के लिए गहन देखभाल में इलाज के बीच यूनाइटेड किंगडम के परमाणु कोड की जिम्मेदारी किसकी है।
बीबीसी द्वारा यह पूछे जाने पर कि क्या विदेश सचिव डोमिनिक रैब को परमाणु कोड सौंपा गया है, जबकि पीएम बोरिस जॉनसन का इलाज हो रहा है। इस पर कैबिनेट कार्यालय के मंत्री माइकल गोव ने कहा- यह अच्छी तरह से विकसित प्रोटोकॉल हैं, जो जगह में हैं। माइकल गोवे ने कहा कि मैं वास्तव में राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों पर बात नहीं कर सकता। डाउनिंग स्ट्रीट ने पुष्टि की है कि कोरोना वायरस के लक्षण सामने आने और स्वास्थ्य खराब होने के बाद पीएम बोरिस जॉनसन को आईसीयू में रखा गया है।

यूनाइटेड किंगडम दुनिया के पांच आधिकारिक परमाणु हथियार रखने वाले देशों में से एक है और उसके पास चार परमाणु पनडुब्बियां हैं, जो परमाणु हथियारों लैस हैं। यूनाइटेड किंगडम के पास लगभग 215 परमाणु हथियारों का भंडार है, हालांकि लगभग 120 ऑपरेशनल रूप से उपलब्ध हैं। परमाणु हमले को केवल ब्रिटिश प्रधानमंत्री ही अधिकृत कर सकते हैं। इस तरह के एक आदेश को ब्रिटेन के परमाणु पनडुब्बियों में से एक विशेष कोड के साथ प्रेषित किया जाएगा।
बताते चलें कि उन्हें 10 दिन पहले COVID-19 पॉजिटिव पाया गया था, जिसके बाद वह आइसोलेशन में चले गए थे। मगर, इसके बावजूद उनमें बीमारी के लक्षण दिखाई देने बंद नहीं हुए, जिसके बाद पहले अस्पताल और अब आईसीयू में भर्ती कराने का निर्णय लिया गया। पहले खबर आ रही थी कि उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है, लेकिन बाद में स्पष्ट किया गया है कि उन्हें सिर्फ ऑक्सीजन दी जा रही है।

Boris Johnson ने सोमवार को अस्पताल से भेजे संदेश में कहा कि वह पूरी तरह से ठीक हैं। वह लगातार अपने मंत्रियों के संपर्क में हैं और देश के हालात पर नजर रखे हुए हैं। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बोरिस जॉनसन के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट में लिखा था- प्रधानमंत्री जॉनसन, आशा है आप जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से बाहर आएंगे।