इलाज से पहले ही मरीज की हुई मौत, तो कोरोना की डर से घर वाले शव छोड़कर भागे....

हॉस्पिटल में कुछ लोग एक मरीज को साथ लाए. जब तक डॉक्टर मरीज को देखकर ट्रीटमेंट करता, उससे पहले ही उसकी मौत हो गई. यह देखते ही उसके साथ वाले शव को छोड़कर भाग गए. यह वाकया झांसी में मऊरानीपुर तहसील का है. 
यह घटना मंगलवार की है. उस समय लगभग 11 बज रहा था तभी कुछ अज्ञात व्यक्ति एक युवक को बीमारी हालत में मऊरानीपुर के रानीपुर बस स्टैंड के पास स्थित हॉस्पिटल ले गए.
मरीज के साथ लोगों ने इलाज कराने के लिए उसे बेंच पर लेटा दिया. डॉक्टर अभी उसकी बीमारी पूछ ही रहे थे कि तभी मरीज अचानक बेंच से नीचे गिर गया. यह देख सभी घबरा गए. डॉक्टरों ने जब उसका परीक्षण किया गया तो वह मर चुका था. यह सुनने के बाद उसे लाने वाले लावारिसों की तरह उसे छोड़कर वहां से भाग गए.
शव काफी समय तक हॉस्पिटल के बाहर ही पड़ा रहा. जब उसे लेने कोई नहीं आया तो पुलिस को जानकारी दी गई. उसके बाद बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. डॉक्टर प्रमोद कुमार जैन के मुताबिक, मृतक का नाम विशाल खरे निवासी परवारीपुर मऊरानीपुर है. आशंका जताई जा रही है कि मृतक की दिल का दौरा पड़ने के कारण मौत हुई है. मौत के बाद इसे लाने वाले यहां से भाग गए और फिर वापस नहीं आए.