कोरोना का साइड इफैक्ट... जिस तार से रास्ता को किया सील, उसीने ने ले लिया जान!

कोरोना वायरस के चलते हो रहा लॉक डाउन के पालन और बाहरी लोगों को रोकने के लिए अनु विभाग के ग्राम रोलाखेड़ी में मुख्य मार्ग पर तार बांधकर रास्ते को रोका गया था, इस तार की चपेट में आने से लगभग 70 वर्ष मोटरसाइकिल सवार की मौत हो गई। बताया जाता है कि पुलिस थाना अवंतिपुर बड़ोदिया अंतर्गत रोला खेड़ी गांव में मुख्य मार्ग पर स्कूल के समीप तार बांधकर रास्ते को अवरुद्ध किया गया था, जिससे कि बाहरी लोगों का प्रवेश गांव में ना हो , मुख्य मार्ग पर बंधे हुए इस तार की चपेट में रोला खेड़ी गांव के ही लक्ष्मीनारायण पिता हेमराज सिंह परमार 70 वर्ष आ गए। 
बताया जाता है कि लक्ष्मी नारायण सुबह गांव से अलिसरिया की ओर जा रहे थे। धूप के कारण यह तार नजर नहीं आया और इससे गला कट गया, जिसे गंभीर हालत में ग्रामीण सुजालपुर अस्पताल लाए जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया । घटना की जानकारी पर पुलिस अवंतिपुर बड़ोदिया मृतक के शव का परीक्षण सिविल अस्पताल में कराया तथा मर्ग कायम किया।

शहर सहित ग्रामीण अंचलों के कई मार्गों पर इस तरह की बैरिकेडिंग के कारण विवाद की स्थिति भी बन रही है। सिटी क्षेत्र में कई लोगों को अपने खेतों पर प्रतिदिन जाना होता है और सामग्री भी लानी होती है ऐसे में रास्ते अवरुद्ध करने से परेशानी बढ़ रही हो रास्ता विरोध करने के कारण यहां विवाद की स्थिति भी निर्मित हुई।