कोरोना : "दूर से पापा..पापा कहता रहता है बेटा" घर के अंदर जाने से पहले इस तरह ये काम करता है ये कांस्टेबल

देश में रोज कोरोना वायरस के मामलों लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे में ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी भी इस संक्रमण से बचाव के लिए अलग-अलग तरीके अपना रहे है। वहीं गुजरात में एक सिपाही जब शाम को अपने घर जाता है तो वह कुछ इस तरह अपने आप को सैनेटाइज करता है।
दरअसल, तस्वीर में दिखाई दे रहे कांस्टेबल राम भाई है। जो राजकोट पुलिस हेडक्वार्टर में तैनात हैं। वह इस समय एक निजी अस्पताल के कोरोना वार्ड में ड्यूटी कर रहे हैं। लेकिन, जब वो घर लौटता है तो सिपाही का तीन साल का बेटा पापा-पापा कहते हुए पास जाने के लिए दौड़ने लगता है। फिर कांस्टेबल बच्चे को दूर खड़े रहने के लिए कहते हैं। फिर सिपाही घर के बाहर गेट पर  अपने शरीर पर गरम पानी डालता है और अपनी पूरी बॉडी को सैनेटाइज करता है। अपने पिता को मासूम बेटा दूर से ही विवश होकर देखता रहता है। 

सिपाही राम भाई का कहना है कि वह घर के बाहर उन्होंने जो जूते उतारे, उसे अगले दिन पहनकर ऑफिस नहीं जाते, बल्कि दूसरे जूते वह अगले दिन पहनते हैं। जो जूते उन्होंने पिछले दिन पहने थे, उसे एक दिन के अंतराल के बाद पहनते हैं। घर के बाहर उन्होंने एक बॉक्स बना रखा है, जिसमें वह जूते रखते हैं।