यूपी का वो आइपीएस अधिकारी जो सभो घरों में पंहुचा रहा है खाना, हर तरफ हो रही है तारीफ़!

लॉक डाउन के चलते जहाँ एक तरफ सडकों पर निकलने वालों से पुलिस सख्ती से निपट रही है । तो वही पुलिस की दरियादिली भी देखने को मिल रही है। जिले में तैनात पुलिस अधिकारी जरुरतमंद लोगों की मदद का जिम्मा खुद उठा रखा है। जिले में तैनात एडीजी और एसपी सिटी के घर उनका परिवार दिन रात मेहनत करके लोगों तक राहत पंहुचाने में जुटा है।
कोरोना की महामारी से बचने के लिए सरकार ने लॉकडाउन घोषित किया है। इस दौरान खानाबदोश जिंदगी जीने वाले लोग सहित गरीब तबके लिए दो जून की रोटी जुटाना मुश्किल हो गया है । इनकी मदद करने के लिए पुलिस के अधिकारी सामने आए है। प्रयागराज के एडीजी प्रेम प्रकाश सहित एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव के घर उनका परिवार खाने का पैकेट तैयार कर रहा है। जिसे जरूरतमंदों को बांटा जा रहा है। इन सबके साथ लोगों को घर से बाहर ना निकलने की हिदायत भी दी जा रही है। लॉक डाउन के दौरान सबसे बड़ी दिक्कत उन लोगों के लिए है। जो हर दिन कमाते और खाते हैं। 

सरकार जहां जरूरतमंदों के लिए तमाम हिदायतें और उनकी सुलभता के लिए निर्देश जारी कर रही है। तो वहीं जिले में तैनात पुलिस अधिकारी भी हर जरूरतमंद तक पहुंचने की कोशिश में जुटे हुए है। प्रयागराज के एडीजी प्रेम प्रकाश ने बताया कि उनकी बेटी और उनकी पत्नी कुछ लोगों की मदद से अपने घर में खाना बना रही हैं। जिसका पैकेट तैयार होने पर वह खुद घर से लाते हैं और लोगों को दे रहे हैं ।जहां भी सूचना मिल रही है वहां खाना पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि कोई भूखा ना रहे। बस गुजारिश है कि लोग लॉक डाउन के दौरान घर से ना निकले।

वहीं शहर के एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव ने बताया कि उनके घर में खाना बन रहा है। उनके बच्चे पत्नी सभी इस काम लगे है। यही नही उनकी पत्नी खुद लोगों को लंच पैकेट देने निकल रही है। जहां से जानकारी मिल रही है वह रेन बसेरा हो या फिर बस्ती में हम खाना पहुंचाने का काम कर रहे हैं ।ताकि लोग भूखे ना सोए ।जिन घरों में बच्चे हैं वहां पर लोगों को लंच खाने के पैकेट दिए जा रहे हैं। ताकि बच्चों को समय समय पर खाना मिलता रहे। बिस्किट पानी चिप्स भी पहुंचाए जा रहे हैं। वही लॉक डाउन के दौरान शहर के कुछ उद्यमी और समाजसेवी संस्थाओं के लोग भी मदद के लिए सामने आए हैं ।जो राशन का पैकेट पानी मास्क सैनिटाइजर और जरूरत की चीजें पहुंचा रहे हैं।
Loading...