ताजा रिपोर्ट : भारत की LOC पर की गई कार्रवाई में मारे गए 15 पाकिस्तानी सैनिक और 8 आतंकी भी

जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर के पास नियंत्रण रेखा के नजदीक आतंकवादियों के लॉन्च पैड पर बीते 10 अप्रैल को भारतीय सेना के आर्टिलरी हमले में 8 आतंकी और 15 पाकिस्तानी सेना के जवान मारे गए। घटना के जुड़े दो सुरक्षा अधिकारियों ने हिन्दुस्तान टाइम्स को यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने कहा कि यह पाकिस्तान के लिए एक संदेश था कि गलतियों का नतीजा भुगतना होगा। 
पाकिस्तान के संघर्षविराम उल्लंघन का जवाब देते हुए भारतीय सेना ने किशनगंगा नदी के किनारे दुधनियाल को निशान बनाया था, जहां आतंकवादियों के लॉन्च पैड थे। यह हमला पहाड़ों पर बसे केरन सेक्टर से किया गया, जहां 5 अप्रैल को भारतीय सेना के स्पेशल कमांडो ने पांच आतंकवादियों को मार गिराया था। वहीं, जम्मू एवं कश्मीर के पुंछ जिले में रविवार (12 अप्रैल) को पाकिस्तानी सेना ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर गोलीबारी कर संघर्षविराम का उल्लंघन किया। 

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल देवेंद्र आनंद ने आईएएनएस से कहा, “पाकिस्तान ने अपराह्न लगभग 1.40 बजे पुंछ जिले के किरनी और कस्बा सेक्टरों में मोर्टार सहित छोटे हथियारों से अकारण गोलीबारी कर संघर्षविराम का उल्लंघन किया। भारतीय सेना जवाबी कार्रवाई कर रही है।” पाकिस्तानी सेना ने शनिवार को भी पुंछ जिले के बालाकोट सेक्टर में अकारण गोलीबारी की थी।