अस्पताल से डिस्चार्ज हो गए SI हरजीत, DGP खुद गए उनको लेने के लिए...

पंजाब के सब इंस्पेक्टर हरजीत सिंह को पीजीआइ से गुरुवार को सुबह डिस्चार्ज कर दिया गया। पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता खुद एसआइ हरजीत सिंह को पीजीआइ से डिस्चार्ज करवाने के लिए पहुंचे। अब पूरी तरह से हाथों की मूवमेंट शुरू होने के बाद वीरवार को हरजीत को डिस्चार्ज कर दिया गया। इस दौरान उन्होंने हरजीत को बेटे अर्शप्रीत का नियुक्ति पत्र भी उन्हें सौंपा। पंजाब सरकार ने हरजीत सिंह के बेटे को पुलिस में बतौर कॉन्टेबल नियुक्त किया है।
पटियाला में सनौर रोड पर स्थित मंडी में ड्यूटी के दौरान एसआइ हरजीत सिंह पर कुछ निहंगों ने हमला कर दिया था। इस हमले में हरजीत सिंह का निहंगों ने तलवार से एक हाथ काट दिया था। जिसके चलते उनेहें इलाज के लिए पीजीआइ में एडमिट किया गया था। पीजीआइ के डॉक्टरों की बदौलत एसआइ हरजीत सिंह का हाथ 8 घंटे चले लंबे आपरेशन के बाद पीजीआइ के डॉक्टरों ने जोड़ दिया था। हरजीत सिंह को आज पीजीआई से छुट्टी दी जा रही है। पंजाब के डीजीपी ने उन्हें उनके बेटे का पंजाब पुलिस के लिए नियुक्ति पत्र सौंपा।

हरजीत सिंह के डिस्चार्ज होने की खबर मिलते ही मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया। इसमें उन्होंने हरजीत सिंह के डिस्चार्ज होने की जानकारी दी और पीजीआई के डॉक्टरों, नर्सों व पूरे स्टाफ का आभार जताया। उन्होंने कहा कि, डिस्चार्ज से पहले हरजीत को बेटे अर्शप्रीत का नियुक्ति पत्र भी सौंपा। पंजाब सरकार ने उनके बेटे को पंजाब पुलिस में बतौर कॉन्टेबल नियुक्त किया है। इससे पहले सरकार ने उनकी बहादुरी को देखते हुए प्रमोट कर सब इंस्पेक्टर बनाया था।