लॉकडाउन में जा रहे थे कार से तो महिला SP ने इनके कार की चाबी निकाल लिया, और फिर सड़क के बीच ही धरने पर बैठे! जानिए फिर इनके साथ क्या हुआ...

गरीब लोगों को राशन देने जा रहे बिलासपुर सदर के पूर्व विधायक बंबर ठाकुर और उनके सहयोगियों को घुमारवीं पुलिस ने रोक लिया। पूर्व विधायक का आरोप है कि कर्फ्यू पास होने के बावजूद पुलिस अधिकारी ने उनकी गाड़ी को रोककर चाबी निकाल ली। पुलिस ने शिमला-धर्मशाला एनएच में घुमाणी चौक पर नाका लगाया था। बंबर ठाकुर के पास एसडीएम बिलासपुर से जारी कर्फ्यू पास भी था।
इससे नाराज पूर्व विधायक सड़क पर ही धरने पर बैठ गए। करीब तीन घंटे तक यह ड्रामा चलता रहा। हालांकि, मामला दर्ज नहीं किया गया। पुलिस ने पूर्व विधायक, उनके बेटे और सहयोगियों को नोटिस देकर छोड़ दिया। घुमाणी चौक पर थाना प्रभारी घुमारवीं सृष्टि पांडे नाके के दौरान मौजूद थीं। उधर, पूर्व विधायक और उनके सहयोगियों ने इस पूरे घटनाक्रम को फेसबुक लाइव कर सोशल मीडिया में वीडियो वायरल कर दिया। 

डीएसपी राजेंद्र कुमार जसवाल ने कहा कि पूर्व विधायक और उनके सहयोगियों को नोटिस जारी कर दोबारा ऐसा न करने की हिदायत दी है। पास बाद में दिखाया गया। पूर्व विधायक बंबर ठाकुर ने कहा कि वह अपने सहयोगियों के साथ गाड़ी में राशन वितरित करने जा रहे थे। घुमाणी चौक पर पुलिस ने गाड़ी की चाबी ले ली तथा घंटों बैठाए रखा। जिला प्रशासन से राशन वितरित करने को जारी स्वीकृति पत्र भी था। उन्होंने कहा कि वे कंदरौर से राशन उठाते हैं तथा उसके बाद वितरित करते हैं।