10 हजार दिलाने के लिए महिला को घर से बुलाया, 24 घंटे बाद जंगल में मिला शव

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक 48 वर्षीय महिला का शव रामपुर मनिहारान थाने के गांव छपरेडी में रजबाहे की पटरी के पास पड़ा मिला। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव की पहचान कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बेटी की तहरीर पर पुलिस ने दो नामजद सहित तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दो को गिरफतार कर लिया। एसपी सिटी ने थाने पहुंचकर आरोपियों से पूछताछ की।
रामपुर मनिहारन क्षेत्र के कांशीराम काॅलोनी निवासी मृतका की पुत्री सपना ने थाने में दर्ज कराई रिपोर्ट में आरोप लगाया कि गांव छपरेडी निवासी रविंद्र के बुलावे पर सोमवार सुबह मां लता पत्नी सुरेश लाम्बा और बेटी सपना रविंद्र के गांव गए थे। रविंद्र ने उसकी मां को उसका ऑनलाइन परीक्षा का फार्म भरवा कर 10 हजार रुपये की आर्थिक मदद दिलाने की बात कही थी।

गांव पहुंचने पर रविंद्र ने उसे घर वापस भेज दिया, जबकि उसकी मां वहीं रुक गई। मंगलवार सुबह उसकी मां का शव छपरेडी के जंगल में पड़ा होने की सूचना मिली। सपना ने शव की पहचान करते हुए रविंद्र व रोशन निवासीगण गांव छपरेडी व एक अन्य अज्ञात के खिलाफ अपनी मां की हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने दोनों नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। एसपी सिटी विनित भटनागर ने भी थाने पहुंच दोनो आरोपियों से पूछताछ की।

थाना प्रभारी छोटे सिंह ने बताया कि पूछताछ में रविंद्र ने बताया कि वह अपनी मर्जी से मृतका की बेटी की शादी कराने का दबाव बना रहा था। इसके लिए महिला तैयार नहीं थी। इस पर उसे गुस्सा आ गया और उसने ईट के प्रहार से उसकी हत्या कर दी। एसओ ने बताया कि आरोपियों को जेल भेजा जा रहा है।