लॉकडाउन में घर लौट रहे 16 मजदूरों की औरंगाबाद में ट्रेन से कटकर मौत, थककर पटरी पर ही सो गए थे...

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में रेलवे ट्रैक पर 16 प्रवासी मजदूरों की मालगाड़ी की चपेट में आने से मौत हो गई। सभी मजदूरमध्य प्रदेश जा रहे थे। हादसा औरंगाबाद के पास करमाड स्टेशन के पास हुआ। घटना उस वक्त हुई, जब मजदूर रेलवे ट्रैक पर सो रहे थे।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी घटना पर दुख जताया है।
हादसे के बाद स्थानीय लोग मदद के लिए आ गए। रेल मंत्रालय ने बताया कि घटना बदनापुर और करनाड स्टेशन के बीच की है। यह इलाका रेलवे के परभणी-मनमाड़ सेक्शन में आता है। शुक्रवार तड़के कुछ मजदूर रेलवे ट्रैक पर सो रहे थे। मालगाड़ी के ड्राइवर ने उन्हें देख लिया था, बचाने की कोशिश भी की, पर हादसा हो गया। मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।
करमाड पुलिस ने बताया कि मजदूर जालना से भुसावल जा रहे थे। वहीं से उन्हें ट्रेन पकड़नी थी। उन्हें मध्य प्रदेश जाना था। मजदूर रेलवे ट्रैक के बगल में ही चल रहे थे। थक गए तो पटरी पर ही सो गए। शुक्रवार सुबह सवा पांच बजे वे ट्रेन की चपेट में आ गए। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मजदूर जालना की एक स्टील फैक्ट्री में काम करते थे। रेलवे ट्रैक पर तफ्तीश करती पुलिस। रेलवे ट्रैक के पास बिखरा पड़ा मजदूरों का सामान।

मोदी जी ने गहरा दुख जताया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने रेल मंत्री पीयूष गोयल से बात की। स्थिति पर नजर रखी जा रही है। हरसंभव सहायतामुहैया कराई जाएगी।