लॉकडाउन में घर जानें के चक्कर में मिक्सर मशीन में छुपकर जा रहे 18 मजदूर, आगे जो हुआ...

लॉकडाउन के चलते कई राज्यों में मजदूर फंसे हुए हैं। वाहन नहीं चलने के कारण वे या तो पैदल यात्रा कर रहे हैं या कोई न कोई जुगाड़ कर छुपकर यात्रा कर रहे हैं। ऐसे ही 18 मजदूर एक मिक्सर मशीन में छुपकर यात्रा कर रहे थे। पुलिस ने जांच के बाद उन्हें पकड़ा है। यह मजदूर महाराष्ट्र में कई दिनों से फंसे थे और उत्तर प्रदेश जा रहे थे। लॉकडाउन उल्लंघन की यह बड़ी तस्वीर इंदौर से आई है। शनिवार को इंदौर-उज्जैन रोड पर चेकिंग प्वाइंट पर एक मिक्सर मशीन में छिपे मजदूरों को पकड़ा है। 
गौरतलब है कि एक माह से भी अधिक समय से जारी लॉकडाउन में लाखों मजदूर कई राज्यों की बार्डर पर रुके हुए हैं। वे जैसे तैसे अपने गंतव्य तक पहुंचने की जी तोड़ कोशिश कर रहे हैं। पुलिस से बचते बचाते वे छुप-छुपकर लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे हैं। हालांकि राज्य सरकारें इनको अपने घर तक पहुंचाने की व्यवस्था कर रही है। हाल ही में मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने राजस्थान में फंसे छात्रों पर्यटकों और मजदूरों को लाने के लिए बसें चलाई हैं। जबकि शनिवार को ही महाराष्ट्र से मजदूरों को लेकर एक ट्रेन भी भोपाल पहुंची है।
डीएसपी ट्रैफिक उमाकांत चौधरी के मुताबिक शनिवार की सुबह पंथपिपलाई बॉर्डर पर जवानों ने एक मिक्सर मशीन को जांच के लिए रोका। जब पुलिसकर्मियों ने इसकी जांच के लिए रोका तो चालक घबरा गया। चालक से पूछने पर उसने कोई जवाब नहीं दिया। इसके बाद मिक्सर मशीन की जांच की गई, तो सभी हैरान रह गए। उसके भीतर से कुछ लोगों के बातें करने की आवाजें आ रही थीं।
पुलिस ने जब मिक्सर का ढक्कन खुलवाया तो उसमें 18 मजदूर बैठे हुए नजर आए। सभी को एक-एक कर नीचे उतारा। यह सभी मिक्सर मशीन में बैठकर उत्तर प्रदेश अपने घर जा रहे थे। जब सभी से पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि सभी मिक्सर मशीन में बैठकर महाराष्ट्र से लखनऊ जा रहे थे। पुलिस ने जिला प्रशासन को मामले की जानकारी दी। इस पर वाहन चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है। वहीं मजदूरों को उनके लिए बनाए गए आवास में भेज दिया गया है।