लॉकडाउन में भाई के साथ तालाब में नहाने गई थी 3 वर्षीय नटखट सुहानी, अचानक डूबकर हो गई मौत, गावँ में पसरा मातम

रविवार की दोपहर ग्राम कनकपुर में 3 वर्षीय मासूम बालिका घर के पास ही स्थित तालाब में अपने 5 वर्षीय भाई के साथ नहाने गई थी। इस दौरान उसकी तालाब में डूबने से मौत हो गइ। घटना के बाद गांव में मातम पसर गया। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और पीएम पश्चात शव परिजन को सौंप दिया। मासूम सुहानी चंचल व नटखट थी, उसके यूं चले जाने से परिजन समेत गांव में मातम पसरा हुआ है।
बलरामपुर जिले के रामानुजगंज थाना अंतर्गत ग्राम कनकपुर के वार्ड क्रमांक 8 बरवापारा में रहने वाले खुशहाल अंसारी की 3 वर्षीय पुत्री सुहानी अपने 5 वर्षीय भाई उस्ताद के साथ रविवार की दोपहर करीब 1 बजे घर से 100 मीटर की दूरी पर स्थित तालाब में नहाने गई थी।

दोनों भाई बहन नहाने में मग्न थे, इसी दौरान अचानक भाई ने देखा कि बहन नहीं दिख रही है। उसने सोचा कि घर चली गई होगी और वह दौड़ता हुआ घर में दादी के पास गया। यहां उसने पूछा कि सुहानी आई है क्या? दादी ने जब कहा कि नहीं आई है तो घर के और सदस्य बाहर निकले और अगल-बगल के घरों में सुहानी को खोजने लगे।

इसके बाद वे तालाब के पास गए और खोजबीन की। यहां उसकी लाश तालाब में देख सबकी आंखें फटी रह गईं। बच्ची तालाब में ही जल समाधि ले चुकी थी। इसकी सूचना रामानुजगंज पुलिस को दी गई। सूचना पर सब इंस्पेक्टर अश्विनी पांडे सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचा और आगे की प्रक्रिया पूरी कर शव परिजनों को सौंप दिया।

मोहल्ले में हैंडपंप होता तो नहीं होती ऐसी घटना

बरवापारा में न कोई हैंडपंप है न कुआं है। ऐसे में यहां के लोग पानी लेने करीब 1 किलोमीटर दूर जाते हैं, जबकि नहाने के लिए तालाब का इस्तेमाल करते हैं। प्रतिदिन दोनों मासूम भाई-बहन तालाब में नहाने जाते थे, वहीं किनारे में ही प्रतिदिन नहाते थे लेकिन आज होनी को कुछ और ही मंजूर था। चंचल व नटखट सुहानी के तालाब में डूबने से हुई मौत के बाद गांव में मातम पसर गया है। कोई विश्वास नहीं कर पा रहा था कि जो बच्ची अभी मोहल्ले में खेलती एवं मीठी मीठी बातें कर रही थी, वह इस प्रकार अचानक खामोश हो गई है।