समाज में बेइज्जती के डर से भाई ने कर दिया अपने ही बहन की हत्या, बहन ने कर लिया था 3 शादियाँ

देवास के कन्नौद में 14 मई को बरखेड़ी रोड स्थित खेत पर बने टप्पर के अंदर एक पोटली में पुलिस को एक अज्ञात महिला की लाश मिली थी। जिसका खुलासा सोमवार शाम को हुआ। महिला की हत्या उसी के सगे भाई ने की थी। पुलिस के अनुसार बरखेड़ी रोड पर योगेंद्र यादव निवासी कन्नौद के खेत पर बने टप्पर के अंदर मृतिका भूरी पति संजय उम्र लगभग 25 वर्ष की लाश मिली थी। महिला के हत्यारे को पुलिस ने 14 मई से ही तलाश कर रही थी। 
पुलिस अधीक्षक देवास के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीरज चौरसिया, एसडीओपी बृजेश सिंह कुशवाहा, थाना प्रभारी जेआर चौहान के मार्गदर्शन में आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए टीम बनाई गई जिसके प्रयास से मुखबिर की सूचना पर 18 मई को आरोपी संजू उर्फ संजय कोरकू निवासी पचोला थाना हंडिया जिला हरदा को पुलिस ने बाईजगवाड़ा के पास नामनपुर रोड पर अपनी टीम के साथ धर दबोचा। 

आरोपी संजू ने पूछताछ के दौरान बताया कि मृतिका भूरी उसकी बड़ी बहन थी जिसकी शादी नयापुरा की गई थी, वहां से वह अपने पति को छोड़ कर आ गई। मृतिका भूरी की दूसरी शादी संजय निवासी पुनासा के साथ की गई। जिससे भूरी को एक 7 वर्षीय लड़की तथा 5 वर्षीय लड़का है। भूरी अपने दूसरे पति को भी छोड़ कर कहीं चली गई थी, जोकि अभी करीब 1 माह पूर्व अपने भाई संजू को मिली थी। जो अपने भाई संजू व लोकेश के साथ योगेंद्र यादव के खेत पर काम करने के लिए साथ रह रहे थे।

मृतिका भूरी फोन पर किसी व्यक्ति के साथ दो.तीन दिन में कहीं भाग जाने की बात कर रही थी। आरोपी संजय द्वारा अपनी बहन के चरित्र तथा समाज में बदनामी होने के कारण उसने अपनी सगी बहन मृतिका भूरी को सोते हुए कुल्हाड़ी से लगातार वार करते हुए मार डाला तथा लाश को मेटी व गोदड़ी में पोटली बनाकर खेत पर बने टप्पर पर ही रखकर वहां से भाग गया। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही से घटना में उपयोग की गई कुल्हाड़ी बरामद की तथा आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया।