बदला लेने के लिए मामा ने 4 वर्षीय भांजे को तीस फीट गहरे कुएं में फेंका, फिर दिया अपहरण की सूचना

विरोधियों से बदला लेने के लिए व्यक्ति इस हद तक भी जा सकता है, यह आपके कभी सोचा भी नहीं होगा। मामा ने अपने विरोधी से बदला लेने के लिए अपने चार वर्ष के मासूम भांजे को कुएं में फेंक दिया। गनीमत रही कि बच्चे को चोट नहीं आई। पुलिस ने इस मामले का कुछ ही घंटे में पर्दाफाश कर दिया और पुलिस ने आरोपी मामा को हिरासत में ले लिया।
थाना रामगढ़ क्षेत्र अंतर्गत बड़ा मिर्जा का नगला निवासी रामसनेही ने डायल 112 पर सूचना दी कि कृष्णकांत उर्फ केके और धेवते रवि (चार) का विपक्षियों ने अपहरण कर लिया है। अपहरण की सूचना पर पुलिस सक्रिय हो गई। एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह के नेतृत्व में थाना प्रभारी रामगढ़ श्याम सिंह, एसओजी प्रभारी कुलदीप सिंह ने टीम के साथ अपहृत कृष्ण कुमार उर्फ केके की मोबाइल लोकेशन ट्रेश की तो वह सिक्सलेन बाईपास शेखूपुर के पास निकली। पुलिस की गाड़ियां पहुंची तो कृष्ण कुमार उर्फ केके हाईवे पर मिल गया।

पुलिस ने पूछताछ करने पर बताया कि बच्चे को विपक्षी साथ ले गए। पुलिस ने आस—पास खोजबीन की। पुलिस ने ममता महाविद्यालय के पास खेत में बने कुएं में झांककर देखा तो चार वर्षीय बालक कुएं के अंदर नजर आया। इस पर पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से उसे कुएं से बाहर निकाला। पूछताछ में बालक रवि ने अपहरण की झूठी कहानी की पोल खोल दी। बालक ने बताया कि उसे कुएं में उसके मामा कृष्ण कुमार उर्फ केके ने फेंका है। एसपी सिटी ने कहा कि कृष्ण कुमार उर्फ केके के परिजन छह माह पूर्व इसी के परिवार के आरव पुत्र योगेश के हत्यारोपी पक्ष के लोगों को फंसाने की साजिश रच रहे थे। इस मामले की जांच करके कार्रवाई की जा रही है।