कोरोना संकट के बीच कर्नाटक में 50 बंदरों की हुई मौत, लोगों ने लगाया ऐसा अंदेशा

देश में गहराते कोरोना संकट के बीच कर्नाटक के एक जिले में लगभग 50 बंदर मृत मिले हैं, जिसके बाद प्रशासन में हलचल मच गई है। स्‍थानीय लोगों ने आशंका जताई है कि संभवत: उन्‍हें जहर दिया गया। ऐसा किन कारणों से किया गया, इस बारे में फिलहाल कुछ साफ नहीं हो सका है। कोरोना संकट के बीच बंदरों की इस तरह रहस्‍यमयी परिस्थितियों में मौत से लोगों में खौफ बैठ गया है।

जानिए क्या है पूरा मामला
यह मामला कर्नाटक के दक्षिण कन्‍नड़ जिले का है। यहां बेलथांगडी तालुक में शुक्रवार को लगभग 50 बंदर मृत मिले। एक रिपोर्ट के अनुसार, बंदरों के शव बंदर गांव के कुंडालापालके-पदमुंजा रोड पर मिले। धटना की सूचना मिलने के बाद जिले के स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों ने घटनास्‍थल का दौरा किया और बंदरों के बिसरा जांच के लिए ले जाए गए।

बंदरों की मौत किन कारणों से हुई, इसका पता लगाने के लिए बिसरा मंगलुरु के एक पशु अस्‍पताल में भेजे गए हैं। इस बीच ऐसी आशंका जताई जा रही है कि बंदरों को संभवत: जहर दिया गया। हालांकि इसका साफ-साफ कारण फिलहाल नहीं सामने आया है, पर ऐसा कहा जा रहा है कि बंदरों को संभवत: फसलों को नुकसान पहुंचाए जाने के कारण जहर दिया गया।

यहां उल्‍लेखनीय है कि राज्‍य से विगत कुछ दिनों में ऐसे और भी कई मामले सामने आए हैं, जिसमें बंदरों की रहस्‍यमय परिस्थितियों में जान गई। अप्रैल के आखिर में मैसूर जिले से भी ऐसे मामले सामने आए थे, जहां तीन बंदरों के शव मिले थे। तब भी अधिकारियों ने ऐसी आशंका जताई थी कि या तो उन्‍हें जहर दिया गया या फिर उनकी मौत कीटनाशक युक्‍त फल खाने से हुई है।