लॉकडाउन में मां ने अपने आशिक के कहने पर 5 वर्षीय बेटे पर फेंक दिया तेजाब

कादियां के गांव ठीकरीवाल में एक मां ने अपने प्रेमी के कहने पर अपने बेटे पर तेजाब फेंक दिया , जिससे बच्चे की उंगलियां व टांगें झुलस गई। जानकारी देते हुए पांच वर्षीय बच्चे नूर की मासी गुरप्रीत कौर ने बताया कि उसकी बहन पूजा की शादी डेरा बाबा नानक के कुलदीप सिंह से हुई थी। जिससे उसका एक बेटा और दो बेटियां है। बेटे के जन्म के कुछ समय के बाद उसके पति कुलदीप सिंह की मौत हो गई। इसके बाद उसकी बहन के संबंध एक व्यक्ति से हो गए। इसके बाद वह अपनी दोनों बेटियों को छोड़कर बेटे को लेकर उसके साथ जालंधर चली गई। 
वहां वह अपने प्रेमी के कहने पर पांच वर्षीय बेटे नूर पर अत्याचार करने लगी और बीते दिनों प्रेमी के कहने पर उसने अपने बेटे पर तेजाब फेंक दिया। इससे उसके एक हाथ की पांचों उंगलियां, टांगें व सिर जल गया। जब किसी ने उसे यह सूचना दी, तो वह खुद अपनी बहन के पास गई। वहां पता चला कि उसकी बहन कादियां के निकटवर्ती गांव ठीकरीवाल में एक किराए के मकान में रहती है। 
इसके बाद वह समाज सेवी संस्था खालसा एड फाउंडेशन के जगजीत सिंह को साथ लेकर अपनी बहन के पास गई और बच्चे को लेकर आई। बाद में उसने अनमोल कवातरा एनजीओ कादियां के संचालक लविश अरोड़ा के सहयोग से बच्चे को बटाला के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया है। उधर लविश अरोड़ा ने बताया कि जब उन्हें बच्चे की स्थिति के बारे में पता चला, तो तुरंत सिविल अस्पताल ले जाया गया। जहां बच्चें का इलाज चल रहा है। 
डॉक्टरों ने बताया कि बच्चे की उंगलियां बुरी तरह से तेजाब के कारण जल गई हैं। ऑपरेशन कर बच्चे की फिगर रिग को काट दिया गया है, जबकि अन्य उंगलियां की जांच एक सप्ताह के बाद की जाएगी। यदि रिकवरी हुई तो उंगलियां बच जाएंगी, नहीं तो काटनी पड़ेगी। इस संबंध में कादियां पुलिस को सूचित कर दिया गया है ।