लॉकडाउन में दो मजदूर ट्रक में बैठकर जा रहे थे घर, गाड़ी पलटने से दोनों की दर्दनाक मौत

लॉकडाउन में फंसे दो मजदूर घर लौटने के फेर में मारे गए। दोनों झारखंड गढ़वा के निवासी थे। पुलिस ने बताया कि भांटापारा से दो मजदूर एक ट्रक में बैठकर गढ़वा झारखंड जा रहे थे। रास्ते में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 111 पर परला (चोटिया) के पास ट्रक दुर्घटना का शिकार हो गए। दोनों की मौत हो गई। मृतकों में राजी अहमद (30) और मुनाजीर खान (37) शामिल हैं।

पुलिस ने प्रारंभिक जांच के आधार पर बताया कि भांटापारा से माल लेकर ट्रक सीजी-15-7087 बिलासपुर कटघोरा के रास्ते औरंगाबाद बिहार जा रहा था। बुधवार- गुरुवार की दरम्यानी रात बिलासपुर- अंबिकापुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर परला के पास चालक का संतुलन बिगड़ गया। गाड़ी सड़क से नीचे उतरकर पलट गई। घटना के बाद ट्रक चालक फरार हो गया। केबिन में बैठे नाजीर अहमद और मुनाजीर खान दब गए। दोनों को गंभीर चोटें आई। रास्ते से गुजर रहे अन्य गाडिय़ों के चालक ने घटना की सूचना बांगो थाना को दी। डायल 112 की टीम मौके पर पहुंची। तब तक केबिन में दबे दो लोगों की मौत हो गई थी। चालक घटना स्थल से फरार हो गया था।

गुरुवार सुबह मामले की जांच की गई। मृतकों की पहचान गढ़वा के रहने वाले लोगों से हुई है। दोनों भांटापारा में रोजी-मजदूरी करते थे। लॉकडाउन में काम बंद होने से दोनों घर नहीं लौट सके थे। ट्रक से लिफ्ट लेकर जा रहे थे। इस बीच हादसे का शिकार हो गए। घटना के बाद से फरार हुआ चालक गुरुवार को थाने पहुंचकर समर्पण कर दिया। मृतकों के शव को कटघोरा की मरच्यूरी में रखा गया है। घटना की सूचना परिवार को दी गई है। उनके आने पर शव सौंप दिया जाएगा।