खेत में काम करने वाले मज़दूरों के ट्रैक्टर पर बिजली का वायर गिर गया, नौ ने तो वहीं दम तोड़ दिया

आंध्र प्रदेश का प्रकासम ज़िला. यहां रापर्ला गांव में 14 मई की शाम एक ट्रैक्टर हादसे का शिकार हो गया. इसमें 30 मज़दूर सवार थे, जिनमें से नौ की मौत हो गई. मरने वालों में सात महिलाएं थीं. वहीं पांच मज़दूर गंभीर रूप से घायल हो गए. रिपोर्ट्स के मुताबिक, मज़दूरों की मौत बिजली वायर से करंट लगने की वजह से हुई.

जानें क्या है पूरा मामला
मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, सभी 30 मज़दूर आस-पास के गांव के रहने वाले थे. घर से कुछ किलोमीटर की दूरी पर मिर्ची के खेतों में काम करने गए. वहां से लौटते वक्त शाम करीब 6:30 बजे उनका ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर बिजली के खंभे से टकरा गया, जिससे बिजली का वायर ट्रैक्टर के ऊपर गिर गया और सभी लोग करंट की चपेट में आ गए. घटनास्थल पर ही नौ लोगों ने दम तोड़ दिया.

पुलिस ने बताया कि ये सभी लोग रोजाना काम पर जाते थे. सुबह उन्हें एक ट्रैक्टर आकर ले जाता था, वही ट्रैक्टर शाम में घर भी छोड़ता था. पुलिस का कहना है कि शुरुआती जांच में पता चला है कि ट्रैक्टर में कोई मेकैनिकल गड़बड़ी थी.

‘हिंदुस्तान टाइम्स’ की रिपोर्ट के मुताबिक, मिर्ची के खेत का मालिक ही ट्रैक्टर चला रहा था. हादसे में उसकी भी मौत होने की खबर है, हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. हादसे के असल कारण का पता लगाया जा रहा है. गंभीर रूप से घायल लोगों का RIMS अस्पताल में इलाज चल रहा है.

वहीं आंध्र प्रदेश के पर्यावरण मंत्री बी श्रीनिवास रेड्डी ने मरने वालों के परिवार को पांच-पांच लाख रुपए का मुआवज़ा देने का ऐलान किया है. चीफ मिनिस्टर वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने घटना पर दुख जताया है.