हत्या के आरोपी ने पुलिस को फोन कर कहा : 'प्रणाम सर कहां हैं, सरेंडर करने आया हूं'

गया पुलिस को हत्या के मामले में जिस आरोपी की तलाश एक माह से कर रही थी वह शनिवार को एसएसपी कार्यालय पहुंच गया। ऑफिस के बाहर बैठे सिपाही से पूछा तो पता चला कि साहेब नहीं हैं, बाहर गए हैं। काफी देर तक इंतजार करने के बाद भी एसएसपी राजीव मिश्रा नहीं आए तब आरोपी ने एसएसपी को फोन किया और कहा- प्रणाम सर, कहां हैं? मैं हत्या के मामले का मुख्य आरोपी हूं। सरेंडर करने आपके ऑफिस आया हूं। 
एसएसपी ने उसे आईजी कार्यालय जाने को कहा। वह आईजी कार्यालय जा रहा था तभी गेट पर ही सिविल लाइन थाना की पुलिस आई और गिरफ्तार कर ले गई। इसके बाद मामले के तीन अन्य आरोपियों ने भी सरेंडर किया। गया के मगध मेडिकल थाना क्षेत्र के गुलनी गांव में 23 अप्रैल 2020 को रिटायर्ड होमगार्ड जवान नागेश्वर यादव के बेटे दीपक की हत्या कर दी गई थी। इस केस में चेरकी थाना क्षेत्र के जैतीया गांव के रहने वाले विक्रम सिंह उर्फ गुड्डू सिंह सहित 6 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी।
एक माह से पुलिस को गुड्डू और अन्य आरोपियों की तलाश थी। पुलिस ने फरार चल रहे आरोपियों के घरों पर इश्तेहार चिपकाया था। गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही थी। पुलिस दबिश के कारण गुड्डू समेत 4 आरोपियों ने शनिवार को गया पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया। 
गया के सिटी एसपी राकेश कुमार ने बताया कि क्रिकेट खेलने को लेकर हुए विवाद में दीपक की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 4 आरोपियों ने आत्मसमर्पण किया है। 6 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। एक को घटना के तुरंत बाद गिरफ्तार कर लिया गया था। सभी को न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी।