प्रेत आत्मा के वश में आई दो गर्भवती महिलाएं, करने लग गईं अजीबो-गरीब हरकत, फिर लिया तांत्रिक का सहारा ...

गंडई क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत ठंढार के स्कूल में क्वारेंटाइन हुए दो महिलाओं ने दो दिनों से अजीबो गरीब हरकते कर रही हैं। अजीब हरकत करने वाली महिला का नाम मोनिका जंघेल उम्र 23 वर्ष, डुलेश्वरी साहू 22 वर्ष है। दोनों ही महिला गर्भवती हैं। लोगों द्वारा इसे काले जादू का असर होना बताया जा रहा है।
ठंढार स्कूल में लगभग 30 से 35 लोग क्वारेंटाइन हुए हैं। ये सभी लोग कमाने-खाने अन्य प्रदेश में गए हुए थे। शहर वापसी होने पर इनको ग्राम के ही स्कूल में क्वारंटीन किये गए हैं। क्वारेंटाइन हुए दो महिलाएं 22 मई को अचानक जोर-जोर से चिल्लाने लगी और अजीबो गरीब हरकते करने लगी। महिलाओं की हरकते देखकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गंडई लाया गया था। जहां पर उपचार में किसी भी तरह का रोग सामने नहीं आया।

तांत्रिक का सहारा भी लिया गया

देखा गया की यह पर घटना के दौरान उस क्वारेंटाइन सेंटर मे पूरी खलबली मची हुई थी। सारे लोग परेशान नजर आ रहे थे। ग्रामीणों के द्वारा कई उपाय भी किए लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा। गांव के लोगों के प्रेतात्मा का छाया मानते हुये क्वारंटाईन सेंटर में तांत्रिक का सहारा भी लिया गया। झाडफ़ंूक करने के बाद दोनों महिलाएं सामान्य हो गई। लेकिन 23 मई की शाम 5 बजे फिर से वही सिलसिला शुरू हो गया था। इस मौके पर पुलिस प्रशासन भी मौजूद हुई। यह काला जादू है या कुछ और। कुछ कहा नहीं जा सकता।

ग्राम पंचायत ठंढार के सरपंच प्रभुराम जंघेल ने बताया कि कुछ दिनों से ऐसी स्थिति बनी थी कि क्वारंटाइन सेंटरों में रह रहे मजदूर बताए तो उन्हें मेडिकल चेकअप के लिए गंडई के शासकीय अस्पताल मे ले जाया गया। वहां सबकुछ सामान्य निकला। मेडिकल चेकअप के बाद क्वारेंटाइन सेंटर में समय पूर्ण होने पर उन्हें घर भेज दिया गया और होम आइसोलेशन में रहने की भी हिदायत दी गई। इस मामले को लेकर सोशल मीडिया मे भी खूब चर्चा देखने और सुनने को मिली। लोगों द्वारा तरह-तरह के कमेंट भी आने लगे।