लॉकडाउन में पांच बर्तनों के साथ बेटी की विदाई, मिसाल बनीं शादी

लॉक डाउन में रिश्तों का मोल सामने आ रहा है। अब दहेज रहित शादियों का चलन भी बढ़ गया है। भानपुर में ऐसी ही शादी हुईं, जिसमें 11 बारातियों की मौजूदगी में ब्याह रचाया गया और पांच बर्तनों के साथ बिटिया की विदाई हुई।
लॉक डाउन के कारण वर-वधु दोनों पक्ष के लोग अब रस्मों की डोर से बंध रहे हैं। जिससे न सिर्फ सादगी से शादियां हो रही हैं बल्कि रिश्तों में और भी मिठास बढ़ रही है। इसी तरह की एक शादी हुई। ब्लॉक बिजुआ के गांव भानपुर में जहां गांव के निवासी नेतराम ने अपनी बेटी नीतू की शादी गृह जनपद लखीमपुर के कस्ता (चकरामपुर) से तय की। 

जिसकी निर्धारित तिथि पर लाकडाउन के चलते महज दूल्हा प्रदीप कुमार सहित केवल 11 बाराती लेकर पहुंचे। इसके बाद पूजा-पाठ के बाद दुल्हन की विदाई हुई। पिता नेतराम ने बताया कि रस्मों-रिवाज के हिसाब से काम हुआ। दोनों पक्ष खुश हैं।