बच्चे ने जीत लिया कोरोना से जंग, डाॅक्टरों ने गिफ्ट और चाॅकलेट देकर भेजा घर

कोरोना महामारी के बीच भिवानी से राहत की खबर आई है। यहां 9 दिन बाद 11 साल के बच्चे ने कोरोना को हराकर घर वापसी की है। इस दाैरान चिकित्सकों ने भी बच्चे का हौंसला बढाने के लिए चॉकलेट, गिफ्ट, गुलदस्ता व स्वास्थ्य के साथ उज्जवल भविष्य का पत्र देकर विदा किया। ठीक होकर घर गए बच्चे की खुशी व चिकित्सकों की पहल देखने लायक थी।
बता दें कि 10 मई को विद्यानगर में कोरोना के एक साथ तीन केस सामने आए थे। इसमें 42 वर्षीय जेबीटी अध्यापक, उसकी 14 वर्षीय बेटी व 11 वर्षीय बेटे को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने तीनों को चौधरी बंसीलाल नागरिक अस्पताल में आईसोलेट किया। अब 9 दिन बाद 11 वर्षीय बच्चे की रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उसे डिस्चार्ज किया गया है।
कोरोना पर जीत हासिल करने पर बच्चे के चेहरे पर खुशी थी। इस खुशी को बनाए रखने और उसका हौसला बढाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने भी उसे डिस्चार्ज करते समय अनुठी पहल की। बच्चे को स्वास्थ्य कर्मियों ने फूलों का गुलदस्ता, चॉकलेट, गिफ्ट व स्वास्थ्य के साथ उज्जवल भविष्य का पत्र देकर डिस्चार्ज किया।
कोविड-19 के जिला कॉर्डिनेटर डाॅक्टर राजेश कुमार ने बताया कि बच्चे को हमारी टीम घर तक छोङकर आएगी और उसे घर पर 14 दिन क्वारंटाइन रखा जाएगा। साथ ही परिजनों से उसके स्वास्थ्य की रोज रिपोर्ट ली जाएगी। उन्होंने बताया कि वह छोटा बच्चा है। उसका हौसला बढ़ाने के लिए उसे गिफ्ट, चाॅकलेट, गुलदस्ता व प्रशंसा पत्र देकर उसके स्वास्थ्य व भविष्य की उज्जवल कामना की गई है।