ऐसी शादी आपने कभी नहीं देखी होगी, लॉकडाउन में धूमधाम से हुई ऐसी शादी, देखकर रह जाएंगे दंग

कहते हैं कि बाल हट के आगे कुछ भी नहीं। कुछ ऐसा ही नजारा हमीरपुर जिले के एक गांव में नजर आया। जहां बच्चों की जिद के आगे रीति रिवाज के साथ गुड्डा और गुड़िया की शादी कराई गई। इस दौरान ढोल नगाड़े ताशों के साथ बाराती और खाना पीना भी संपन्न हुआ।
मामला उत्तर प्रदेश के हमीरपुर के राठ कोतवाली के अंतर्गत आने वाले ग्राम ओड़ेरा का है। यहां पर बच्चों की जिद के आगे कोरोना जैसी महामारी भी फीकी पड़ गई। बता दें कि गांव के बच्चों ने जब जिद पकड़ी तो ग्रामीण भी उनकी जिद के आगे नतमस्तक हो गए।

बच्चों ने गुड्डा-गुड़िया की शादी को लेकर जिद्द शुरू कर दी। बच्चों ने कहा कि लॉकडाउन और कोरोना महामारी के बीच ना तो हम खेल पा रहे हैं और न ही पढ़ पा रहे, इसलिए अब हम एक ऐसा काम करेंगे जिसकी चर्चा चारों तरफ होगी। काफी समझाने के बाद जब बच्चे नहीं माने तो पूरे गांव ने बच्चों का साथ दिया, और पूरी रीति-रिवाज के साथ लग्न मंडप फेरे बाराती ढोल नगाड़े ताशे और बारातियों का स्वागत सत्कार भी खूब हुआ जमकर ग्रामीणों ने ढोल ताशों पर ठुमके लगाए।

बकायदा गुड्डे को दूल्हे के रूप में लेकर पहुंचे बारातियों का मिठाई से स्वागत हुआ, और टीका भी किया गया, यह कहानी सुनने में जितनी मजेदार है देखने में उससे भी कहीं ज्यादा रिझाने वाली है, क्योंकि इन बच्चों की मनमोहक ज़िद्द ने सबका दिल जीत लिया। शादी का यह प्रोग्राम लगातार तीन दिन चला, चौथे दिन जाकर यह शादी संपन्न हुई। जिसमें दूल्हे का नाम कार्तिक और दुल्हन गुड़िया का नाम पायल रखा गया।