लॉकडाउन में शक के चलते पति ने अपनी पत्नी की काट दिया नाक

कानपुर जनपद के नवाबगंज थानाक्षेत्र में पति ने शक के चलते पत्नी की धारदार हथियार से नाक काट दी। घटना को अंजाम देने के बाद पति खुद थाने पुलिस के सामने हाजिर हो गया। महिला ने कोई भी कार्यवाही करने से इंकार कर दिया है और खुद का इलाज निजी अस्पताल में करवा लिया है।
देश में कोरोना के चलते लॉक डाउन चल रहा है और सभी लोग इस दौरान अपने घरों में हैं। इस बीच जनपद के नवाबगंज थाने में रविवार को चाकू पर खून लगा लेकर एक व्यक्ति पहुंचता है। यह देख पुलिस कर्मियों में हड़कम्प मच जाता है। आनन-फानन सभी उसे घेर लेते। लेकिन वह बिना किसी प्रतिक्रिया के कहता है कि भाग नहीं रहा हूं, मैंने अपनी पत्नी की नाक काट दी और खुद को पुलिस के हवाले करने आया हूं। इसके बाद पुलिस की जान में जान आई और उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु की।

इंस्पेक्टर नवाबगंज रमाकांत पचौरी ने बताया कि ज्योरा गांव में रहने वाला कल्लू मजदूरी का काम करता है। लॉक डाउन के चलते वह आज कल घर में ही रह रहा था। रविवार को कल्लू की उसकी पत्नी मूर्ति के बीच विवाद हो गया। विवाद के दौरान कल्लू ने चाकू से पत्नी मूर्ति पर वार कर दिया, जिससे पत्नी की नाक पर चोट आ गई। पति घटना को अंजाम देकर खुद नवाबगंज थाने में आया था जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

पूछताछ की गई तो पत्नी मूर्ति ने बताया कि पति बीते दो माह से उस पर शक कर रहा था जिसके चलते दोनों के बीच प्रतिदिन विवाद हुआ करता था। आज उसने चाकू से वार कर दिया। नवाबगंज थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी कल्लू को पुलिस ने देख लिया था और फिर वह थाने आ गया। पत्नी ने इलाज कराने और कोई भी कार्यवाही से मना कर दिया है। फिलहाल अभियुक्त पुलिस गिरफ्त में हैं तहरीर मिलने पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।