बच्‍चे की मां से प्यार में इस युवक ने रची मासूम की हत्या की साजिश, और फिर ऐसे हुआ पर्दाफाश

लखनऊ के ठाकुरगंज के मुफ़तीगंज से लापता मासूम की हत्‍या कर दी गई थी। मासूम का शव एक अर्धनिर्मित मकान में पड़ा मिला। पुलिस ने हत्‍यारोपित को गिरफ्तार कर वारदात का राजफाश किया है। एडीसीपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी के मुताबिक पकड़ा गया आरोपित मासूूम की मां से एकतरफा प्‍यार करता था। मासूम काेे रास्‍ते से हटाने के लिए उसने वारदात को अंजाम दिया था। आरोपित से पूछताछ की जा रही है।
मुफ़तीगंज निवासी नजमा का बेटा अयान रिजवी 15 मई को घर से कोचिंग पढ़ने के लिए निकला था, लेकिन वापस नहीं लौटा। काफी देर तक अयान के घर नहीं लौटने पर नजमा ने खोजबीन की, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला। इसके बाद नजमा ने ठाकुरगंज थाने में गुमशुदगी दर्ज की। पुलिस ने छानबीन की तो पता चला कि अयान जिस दिन घर से निकला था, उस दिन कोचिंग बंद था। पड़ताल के दौरान कोचिंग के बाहर अयान का बैग पड़ा मिला। 

एडीसीपी पश्चिम ने बताया कि जमीनी स्‍तर और सर्विलांस की मदद से छानबीन में पता चला कि नजमा के घर अक्‍सर नमीहुल हसन आता था। संदेह के आधार पर पुलिस ने पूछताछ की तो समीहुल गुमराह करता रहा। कड़ाई से पूछताछ में पता चला कि समीहुल हसन नजमा से एकतरफा प्‍यार करता था। आरोपति को लगता था कि अयान के जिंदा रहते वह नजमा से शादी नहीं कर पाएगा। इसी के कारण उसने हत्‍या की साजिश रची।

प्‍लान के तहत 15 मई को अयान उसे कोचिंग के बाहर मिला था। वहां से वह अयान को पतंग दिलाने के बहाने अपने साथ ले गया। इसके बाद वह अयान को महताब बाग स्थित एक अर्ध निर्मित मकान में ले गया। वहां पर उसने अयान का सिर दीवार पर पटक दिया, इसके बाद गला दबाकर उसकी हत्‍या कर दी। इसके बाद उसका शव उसी मकान में छिपा दिया। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर अर्ध निर्मित मकान से शव बरामद किया। अयान का शव मिलने की जानकारी मिलने पर नजमा बेसुध होकर गिर पड़ी, जिसे मोहल्‍ले के लोगों ने किसी तरह शांत कराया। नजमा के पति मोहम्‍मद वकील का देहांत हो चुका है।   

सीसी फुटेज में अयान को लेकर जाते समीहुल कैद हो गया था। इसी की मदद से पुलिस ने उसे हिरासत में लिया और फिर पूछताछ शुरू की। आरोपित दो साल से नजमा के घर आ रहा था। बताया गया कि अयान को समीहुल का घर आना पसंद नहीं था। वह अक्‍सर उसका विरोध भी करता था, जिसको लेकर आरोपित उसे पसंद नहीं करता था।