लॉकडाउन में सूटकेस पर सो गया बच्चा, रस्सी के सहारे खींचते हुए चलती रही मां

कोरोना वायरस संकट काल में लॉकडाउन के बीच गैर राज्यों में फंसे श्रमिक अपने घरों को लौट रहे हैं। इन कामगारों व श्रमिक परिवारों की कई मार्मिक तस्वीरें सामने आ रही हैं। कहीं कोई बैल के साथ बैलगाड़ी में जुतकर परिवार को खींच रहा है तो कहीं भूंसे की तरह सीमेंट मिक्सिंग गाड़ी में ठूसा अपने गंतव्य की तरफ बढ़ रहा है। जिन्हें लौटने के लिए साधन मिल गए, वे खुशनसीब हैं, अन्यथा लाखों लोग सड़क पर पैदल सफर तय कर रहे हैं। 
बुधवार को ताजनगरी आगरा में श्रमिकों का एक जत्था पंजाब से लौटकर महोबा जा रहा था। इस जत्थे में महिलाएं व बच्चे भी थे। इसी जत्थे में शामिल एक मां अपने मासूम बच्चे को सूटकेस पर लिटाकर पैदल चल रही है। अब यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि बच्चा पहिए वाले सूटकेस पर सोया हुआ है और मां उसे एक रस्सी के सहारे खींचते हुए चल रही है। 
महिला बताती है कि उसे महोबा (झांसी) जाना है। मजदूरों का यह दल पंजाब से ही पैदल महोबा के लिए निकला है। इस दल में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। इस जत्थे में शामिल धीरज नाम के शख्स ने बताया कि वे पंजाब से लौट रहे हैं। इसी तरह पैदल चलते अभी तक का सफर पूरा किया है। जहां रात हो जाती है, वहीं ठहर जाते हैं। रास्ते में कुछ लोगों ने राशन दिया है, वही बनाकर खा लेते हैं।