कोरोना से लड़ने के लिए PM मोदी ने किया 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान, जानें इससे जुड़ी हर अहम बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट से जूझ रहे देश के विभिन्न वर्गों के लिए मंगलवार को कुल 20 लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा की. उन्होंने कहा कि 20 लाख करोड़ रुपए का ये पैकेज, 2020 में आत्मनिर्भर भारत अभियान को एक नई गति देगा. उन्होंने कहा कि एक्सपर्ट बताते हैं कि कोरोना लंबे समय तक जिंदगी का हिस्सा बना रहेगा लेकिन हम अपने लक्ष्यों को दूर नहीं होने देंगे.

जानें आर्थिक पैकेज को लेकर प्रधानमंत्री ने क्या कहा…
कोरोना संकट का सामना करते हुए, नए संकल्प के साथ मैं आज एक विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा कर रहा हूं. ये आर्थिक पैकेज, ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ की अहम कड़ी के तौर पर काम करेगा. 20 लाख करोड़ रुपय का ये पैकेज 2020 में, आत्मनिर्भर भारत अभियान को नया गति देगा. ये आर्थिक पैकेज देश के उस श्रमिक और किसान के लिए है जो देश वासियों के लिए दिन रात परिश्रम क्र रहा है.

ये मध्यम वर्ग के लिए है जो ईमानदारी से अपना टैक्स देता है और विकास का हिस्सा है. ये आर्थिक पैकेज हमारे कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, हमारे लघु-मंझोले उद्योग, हमारे MSME के लिए है, जो करोड़ों लोगों की आजीविका का साधन है, जो आत्मनिर्भर भारत के हमारे संकल्प का मजबूत आधार है.
ये संकट इतना बड़ा है कि बड़ी से बड़ी व्यवस्था हिल गयी. देश ने हमारे ग्रीन भाई बहनों की शक्ति को देखा, ठेला लगाने वाले , श्रमिक, घरों में काम करने वाले भाई बेहेन बहुत कष्ट झेला है. ऐसा कौन है जिसने उनकी अनुपस्तिथि को महसूस नहीं किया. हमें अब उनके लिए कुछ करना है, हर तबके के लिए आर्थिक पैकेज में ऐलान किया जायेगा.

20 लाख करोड़ का ये जो पैकेज है, ये भारतीय इकॉनमी का 10 प्रतिशत है. इस पैकेज में लैंड, लेबर, लिक्विडिटी और लॉज सभी पर बल दिया गया है. आज हमारे पास साधन हैं, हमारे पास सामर्थ्य है, हमारे पास दुनिया का सबसे बेहतरीन टैलेंट है, हम बेस्ट प्रोडक्ट्स बनाएंगे, अपनी क्वालिटी और बेहतर करेंगे, सप्लाई चेन को और आधुनिक बनाएंगे, ये हम कर सकते हैं और हम जरूर करेंगे.

यही हम भारतीयों की संकल्पशक्ति है. हम ठान लें तो कोई लक्ष्य असंभव नहीं, कोई राह मुश्किल नहीं. आज तो चाह भी है, राह भी है. ये है भारत को आत्मनिर्भर बनाना. आत्मनिर्भर भारत का ये युग, हर भारतवासी के लिए नूतन प्रण भी होगा, नूतन पर्व भी होगा. अब एक नई प्राणशक्ति, नई संकल्पशक्ति के साथ हमें आगे बढ़ना है. यह पैकेज आर्थिक जगत के लिए है जो भारत के आर्थिक विकास को बुलंदी देते हैं. आगे वित्त मंत्री के स्तर से इस आर्थिक पैकेज की विस्तार से जानकारी दी जाएगी.