5 दिन बाद जिस बेटी की होनी थी शादी, अब उठानी पड़ी उसकी अर्थी, वजह जान खौल जाएंगे आप

दिल्ली से सटे गाजियाबाद के थाना टीला मोड़ इलाके में एक ऐसा मामला सामने आया है। जहां पर एक सिरफिरे आशिक ने एकतरफा प्यार के चलते एक युवती को उसकी शादी से महज 5 दिन पहले ही चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया है। बताया जा रहा है कि युवती बाजार से कुछ सामान लेकर घर लौट रही थी। इसी बीच में ही उस हत्यारे के द्वारा इस वारदात को अंजाम दिया गया।
दरअसल, बलदेव सिंह अपनी पत्नी और बेटी नैना कौर के साथ काफी समय से थाना टीला मोड़ क्षेत्र के तुलसी निकेतन कॉलोनी में रहते हैं। बलदेव सिंह दिल्ली के विवेक विहार कॉलोनी में एक खराद की कंपनी में काम करते हैं। जबकि उनकी बेटी नैना कौर ने हाल में ही कक्षा 12 की परीक्षा दी थी। वह गगन विहार इलाके के सरकारी स्कूल में पढ़ती थी। बताया जा रहा है कि बुधवार की रात बलदेव सिंह और पत्नी व बेटी नैना कौर के साथ बाजार से फोन रिचार्ज करवाकर घर लौट रहे थे। इसी दौरान भीड़-भाड़ वाले चौक पर नकाबपोश युवक ने नैना को घसीटते हुए जमीन पर गिरा दिया और उस पर ताबड़तोड़ चाकू से वार करने शुरू कर दिए। हालांकि नैना उस युवक से भिड़ गई और बलदेव व उनकी पत्नी शोर मचाते रहे। 
शोरगुल सुनकर स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे तो हमलावर अपने साथियों के साथ बाइक पर सवार होकर फरार हो गया। बताया जा रहा है कि जिस सिरफिरे युवक ने हमला किया। वह नकाबपोश था, लेकिन जब नैना के साथ उसकी भिड़ंत हो रही थी तो उसका नकाब उतर गया और उसे पहचान लिया गया। उन्होंने बताया कि हमलावर सुंदर नगरी निवासी शेरखान था, जो पिछले काफी समय से उनकी बेटी को परेशान कर रहा था और जबरन उसके साथ शादी करना चाहता था। पुलिस ने इस पूरे मामले को दर्ज कर आरोपी की धरपकड़ के लिए टीम गठित कर दी है। पुलिस का दावा है जल्द ही आरोपी को धर दबोचा जाएगा।
राज ने बताया कि नैना कौर की 5 दिन बाद ही शादी होने वाली थी, जिसकी तैयारियां उसके परिवार द्वारा पूरी तरह कर ली गई थी, लेकिन उससे पहले ही उस सिरफिरे युवक ने नैना को मौत के घाट उतार दिया। वहीं इस पूरे मामले में गाजियाबाद के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि इस तरह का मामला सामने आया है फिलहाल आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए टीम गठित कर दी गई है, जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।