करंट लगने के बाद 6 घंटे तक खंभे में लटकता रह गया लाइनमैन

रामनगर के जिगना सब स्टेशन में पदस्थ लाइनमैन बुद्घसेन पटेल उम्र 35 वर्ष सोमवार सुबह तकरीबन 7 बजे झोंपा गांव में 11 हजार वोल्ट की विद्युत लाइन सुधारने के लिए खंभे में चढ़कर काम कर रहा था। तभी सब स्टेशन ने लाइन चालू कर दी गई और विद्युत लाइन में करंट दौड़ गया। जिसके कारण लाइनमैन करंट की चपेट में आ गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना से नाराज पीड़ित परिजन व ग्रामीणों ने घटना के विरोध में प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।
इस दौरान तकरीबन 6 घंटे तक मृतक का शव खंभे में लटकता रहा। पीड़ित परिजन लाइन चालू करने वाले की गिरफ्तार और हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग पर अड़ गए। प्रदर्शन की सूचना मिलते ही रामनगर थाना पुलिस मौके पर पहुंचकर घटना की जांच करने के बाद उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। वहीं विद्युत के एई विनोद कुमार ने भी घटना की जांच करने का आश्वासन दिया है। जिसके बाद परिजन राजी हुए। जिसके कारण मृतक के शव को खंभे से नीचे उतारकर पीएम के लिए अस्पताल भेजा गया।

मिली जानकारी के अनुसार मेंटेनेंस का कार्य करने के लिए लाइनमैन द्वारा जिगना सब स्टेशन से सुबह 7 बजे से साढ़े 7 बजे तक ही परमिट मिली थी। इस हिसाब से कार्य करने के आधा घंटे तक लाइन चालू नहीं होना था। लेकिन जैसे ही लाइनमैन कार्य करने के लिए खंभे में चढ़ा वैसे ही लाइन चालू हो गई। जिसके कारण यह घटना घटित हो गई। पीड़ित परिजनों ने आरोप लगाया है कि यह घटना नहीं बल्कि हत्या है। लिहाजा संबंधित व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

बरसात से पहले नहीं हुआ मेंटेनेंस
गौरतलब है कि प्री-मानूसन के तहत विद्युत विभाग को मेंटेनेंस का कार्य मई और जून के पहले सप्ताह तक पूरा करना चाहिए था। लेकिन विभाग की लापरवाही की वजह से जिले के कई ग्रामीण क्षेत्रों में अभी तक कार्य काफी अधूरा पडा हुआ है। ऐसे में विद्युत विभाग की कहीं न कहीं लापरवाही भी सामने आ रही है।
<