मौत के बाद आया रिजल्ट, सड़क हादसे में जान गंवाने वाली दोनों बहनें इंटर में फर्स्ट क्लास हुईं पास

उत्तर प्रदेश शिक्षा बोर्ड ने आज ही 10वीं और 12वींं कक्षा का रिजल्ट घोषित किया। इसमें हाथरस जिले के सादाबाद कस्बा निवासी दो बहनों मीनू और मणि ने इंटरमीडिएट फर्स्ट डिविजन के साथ पास की। आप सोच रहे होंगे कि फर्स्ट डिविजन से पास होना तो सामान्य बात और कई बच्चे इस श्रेणा से पास होते हैं। लेकिन यहां हम जिन दो बहनों का जिक्र कर रहे हैं, वो अपने रिजल्ट की खुशियां मनाने के लिए जीवित नहीं हैं। मीनू और मणि दोनों का पिछले दिनों एक सड़क दुर्घटना में निधन हो गया। अब रिजल्ट भी आया तो मौत के बाद।
इंटर की छात्रा मणि व मीनू को परीक्षा परिणाम का इंतजार था। लेकिन कुछ दिन पूर्व ही सड़क हादसे में दोनों की मृत्यु हो गई। दोनों बहनें प्रथम श्रेणी में पास हुई है। आपको बता दें कि की 13 मार्च को अपना जन्मदिन मनाने के लिए मीनू अपनी बहन मणि और 3 अन्य सहेलियों के साथ निकली थी। लेकिन जन्मदिन ही मीनू के जीवन का अंतिम दिन बन गया। 

हादसा तब हुआ जब ये पांचों सहेलियों हाथरस में जन्मदिन की पार्टी मनाकर वापस सादाबाद लौट रही थी। मीनू, मणि और सहेली सौम्या एक ही स्कूटी पर सवार थी, जबकि अन्य दो सहेलियां दूसरी गाड़ी पर थीं। इनकी स्कूटी को तेज रफ्तार बस ने जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में तीनों घायल हो गई थी, स्थानीय लोगों और पुलिस ने तीनों को अस्पताल पहुंचाया, लेकिन मीनू और मणि की मौत हो गई। जबकि सौम्या गंभीर घायल हो गई थी। हादसे के बाद चालक रोडवेज बस को मौके पर ही छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने हालांकि बाद में वैधानिक कार्रवाई की।

लेकिन अब जब रिजल्ट आया तो मीनू और मणि की यादें ताजा हो गई क्योंकि दोनों ने ही इंटरमीडिएट की परीक्षा प्रथम श्रेणी के साथ पास की। इस रिजल्ट का उन्हें बेसब्री से इंतजार था। बहरहाल रिजल्ट आने के साथ ही परिवार में एक बार फिर शोक की लहर छा गई है।