कोरोना ने दिया ऐसी सौगात..इंतजार में बीत गई रात, नहीं आई बरात

सुलतानपुर कोतवाली देहात के एक गांव में शुक्रवार की रात तय कार्यक्रम के बावजूद दूल्हे का परिवार बरात लेकर ही दूल्हन की ड्योढी पर नहीं पहुंचा। सारी तैयारी कर लोग रात भर इंतजार करते रहे, लेकिन दुल्हन की शादी का अरमान पूरा न हो सका। अंत में परिवारजन निराश हो गए और इसकी सूचना थाने पर दी।
गांव निवासी युवती की शादी पड़ोसी जनपद प्रतापगढ़ के गोसांईपुरवा सोनावां निवासी युवक के साथ दिसंबर महीने में तय की गयी। खुशनुमा माहौल में तय कार्यक्रम के अनुसार मार्च महीने में दूल्हन के घर रीति रिवाज से दूल्हा दूल्हन की सगाई हुई । सगाई की रस्म पूरी कर 22 अप्रैल को विवाह की तिथि निश्चित की गयी थी, लेकिन लॉकडाउन के कारण शादी नहीं हो सकी और दोनो पक्षों की सहमति पर 19 जून की दूसरी तिथि विवाह के लिए तय की गई। 

दुल्हन पक्ष की तरफ से शुक्रवार को विवाह कार्यक्रम और बरातियों के आवभगत की पूरी व्यवस्था की गयी। शाम बीत गयी और फिर देर रात तक वधू पक्ष के लोग दूल्हे व बरातियों का इंतजार करते रहे लेकिन बरात नहीं आई। परिवारीजन ने वर पक्ष के पास फोन मिलाया तो कोई जवाब नहीं मिल सका। देहात कोतवाल देवेंद्र सिह ने बताया मामला संज्ञान में है। अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।